कॉलेज प्रशासन ने लड़कियों को कलावा बांधकर आने से रोका उसके बाद देखिये लड़कियों ने क्या किया…

भारत में हिन्दू और मुस्लिम के बीच की लड़ाई इस हद तक बढ़ गई है की अब इसका असर कॉलेज में पढने वाले छात्रों पर भी होने लगा है l कुछ समय पहले हंगल के श्री कुमारेश्वर आर्ट्स एंड कॉमर्स कॉलेज में छात्रों के लिए यूनिफॉर्म को अनिवार्य किया गया था । कॉलेज के अधिकारियों ने दावा किया है कि उन्होंने छात्रों के बीच एकता और अनुशासन सुनिश्चित करने के लिए यह नियम बनाया है। शुरुआत में सभी समुदायों के छात्रों ने इस सिस्टम का पालन किया। लेकिन कॉलेज के आखरी दिनों में कुछ लड़कियों ने बुरका पहन के आना शुरू कर दिया l कॉलेज प्रशासन ने मुस्लिम लड़कियों को रोकने के लिए कई बार नियम बनाए, उनपर फाइन भी लगाया गया फिर भी कॉलेज की मुस्लिम लड़कियों ने बुरका पहन के आना बंद नहीं किया l हिन्दुओं ने इस बुरके की जिद्द के जवाब में भगवा रंग का स्कार्फ पहन के आना शुरू किया, जिसे देखकर सभी चौंक गए l हिन्दू मुस्लिम का ये विवाद  बढ़ते बढ़ते कन्नड़ के सभी कॉलेज में फ़ैल गया है l इस बात से कॉलेज प्रशासन काफी परेशान है, ऐसे में प्रशासन ने सरकार को पत्र लिखा है और मामले में फैसला लेने की मांग की है l लेकिन अब कॉलेज में भगवा स्कार्फ पहने  छात्र बड़ी संख्या में दिखने लगे हैं l

लेकिन, एक बार फिर इसी तरह का मामला एक बेंगलुरु से सामने आया है, बेंगलुरु के एक कॉलेज में हिन्दू लड़कियों को जब कलावा पहनने पर कॉलेज के प्रशासन ने आपत्ति दिखाई तो हिन्दू लड़कियों ने कहा कि आप हमारे कलावा पहनने पर आपत्ति कर सकते हो पर आप इसी कॉलेज में बुरका पहनने वाली लड़कियों पर आपत्ति क्यों नहीं करते ? इस बात पर कॉलेज प्रशासन की बोलतो बंद हो गयी l 1-2 दिन बाद कॉलेज प्रशासन ने फिर से हिन्दू लड़कियों को तिलक और कलावा पहनने से रोका तो हिन्दू लड़कियों का खून खौल गया l

अगले पेज पर देखिये विडियो में क्या हुआ कॉलेज में जब लड़कियां नहीं मानी…!

loading...